गंगाधर नेहरू | Gangadhar Nehru Biography in Hindi


Gangadhar Nehru Biography in Hindi
गंगाधर नेहरू 


भारत के प्रथम प्रधानमन्त्री पंडित जवाहर लाल नेहरू के दादाजी और स्वतंत्रा सेनानी मोतीलाल नेहरू के पिताजी गंगाधर नेहरू का जन्म वर्ष 1827 में हुआ था। गंगाधर नेहरू के पिताजी का नाम लक्ष्मी नारायण नेहरू था। मुग़ल बादशाह बहादुर शाह द्वितीय के समय ये दिल्ली के कोतवाल(पुलिस प्रमुख) थे। इनकी शादी बाल्य अवस्था में ही जियोरानी देवी से हो गई थी। गंगाधर नेहरू के चार संताने थी। गंगाधर नेहरू दिल्ली की आख़िरी पुलिस प्रमुख थे, ब्रिटिश हुकूमत में  भारत सम्मलित होने से पहले। 

वर्ष 1857 स्वत्रन्त्र आल्दोलन के बाद अंग्रेजी हुकूमत ने अपने हाथों में सीधे तौर पर भारत की सत्ता अपने हाथ में ले लिया। अंग्रेजी हुकूमत के कत्लेआम के डर से गंगाधर नेहरू अपने सहपरिवार के साथ दिल्ली से आगरा चले गए। आगरा में ही गंगाधर के पुत्रों की शिक्षा-दीक्षा हुई। गंगाधर नेहरू के बड़े पुत्र वंशीधर नेहरू ने अच्छी शिक्षा प्राप्त कर अंग्रेजी हुकूमत में न्याय विभाग में नौकरी करने लगे।

गंगाधर नेहरू के छोटे पुत्र नन्दलाल नेहरू ने भी अच्छी शिक्षा के बाद राजस्थान की खेतड़ी रियासत के दीवान बनाए गए। उसके बाद वो कानून की शिक्षा प्राप्त कर वकालत करने लगे। गंगाधर नेहरू के तीसरे पुत्र मोतीलाल नेहरू भी अच्छी शिक्षा प्राप्त कर वकालत करने लगे, बाद में वो भारत को आजादी दिलाने वाले स्वतन्त्रा अल्दोलन में अहम् भूमिका निभाई तथा वर्ष 1919 और 1928 में कांग्रेस अध्यक्ष बने। 

फ़रवरी 1861 में गंगाधर नेहरू की मृत्यु हो गई। गंगाधर नेहरू एक आदर्शवादी पिता थे जिन्होंने अपने पुत्रों को  उच्च शिक्षा दिलाया जो भारतीय समाज को एक अलग दिशा में ले जाने में अहम् भूमिका निभाई।